आप यहां हैं:

सौर तापीय

सौर तापीय प्रणालियां गर्म जल, गर्म वायु वाष्‍प आदि के रूप में ताप पैदा करके सौर विकिरणों का इस्‍तेमाल कर सौर ऊर्जा का उपयोग करती हैं जो बड़़े पैमाने पर विद्युत के उत्‍पादन, स्‍पेस तापन, स्‍पेस्र कूलिंग कम्‍युनिटी  कुकिंग प्रक्रिया तापन आदि जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों में अनेक अनुप्रयोग को पूरा करने के लिए लगाई जा सकती है। इन अनुप्रयोगों का हीट एक्‍सचेंजरों के रूप में सौर ऊर्जा एकत्रकों के रूप में इस्‍तेमाल किया जाता है जो सौर विकिरण ऊर्जा को ट्रांसपोर्ट मीडियम (अथवा हीट ट्रांसफर फ्लूइड, सामान्‍यत: वायु, जल अथवा तेल) को आन्‍तरिक ऊर्जा में बदल देता है। इस प्रकार एकत्रित सौर ऊर्जा या तो सीघे गर्म जल अथवा स्‍पेस स्थितीय उपकरण को फ्लूड परिचालित कर अथवा तापीय ऊर्जा भडंराण टैंक से ले जायी जाती है जो रात्रि और/अथवा मेघाच्‍छन्‍न दिनों में इस्‍तेमाल के लिए ली जा सकती है। सौर तापीय प्रणालियां गैर- सकेंद्रीय अथवा संकेंद्रीय किस्‍मों की हो सकती है। ये अनुप्रयोग, अपेक्षित तापमान और आर्थिक व्‍यवहार्यता पर निर्भर करते हुए स्थिर (स्‍टेशनरी) अथवा सूर्य-ट्रेकिंग मेकेनिज्‍म हो सकते है।